Symptoms Of Heart Attack In Hindi: ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi
Table Of Content of Symptoms Of Heart Attack in Hindi

ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

ह्रदय घात,हार्ट अटैक या यूँ कहिये दिल का दौरा आप भले ही इसे किसी भी नाम से जानते हो पर खतरा इसका एक जैसा ही होता है । और आज कल दिल का दौरा पड़ने के जोखिम न  सिर्फ बूढ़े बुजुर्गो बल्कि बच्चो से ले कर नौजवान लोगो को भी होता है । और यदि आपको भी ह्रदय घात या हार्ट अटैक जैसे खतरे की सम्भावना है तो आप हार्ट अटैक के लक्षण  (Symptoms Of Heart Attack in Hindi) को पहचना कर समय रहते इससे बच सकते है।

 यदि आप हार्ट अटैक के लक्षणों  के बारे में सम्पूर्ण जानकारी चाहते है तो हमारे इस लेख के जरिये आप जानेंगे हार्ट अटैक आने की उम्र, हार्ट अटैक के लक्षण और उपाय, हार्ट अटैक का दर्द कैसे पहचाने आदि तो बने रहिये इस लेख के साथ और अपने दिल को भी बनाये रखिये सुरक्षित ।

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

हार्ट अटैक या दिल का दौरा क्या है ?| What is Heart Attack in Hindi

सबसे पहले जानते है हार्ट अटैक क्या है और कैसे होता है । हार्ट अटैक दिल की बिमारियों मैं सबसे खतरनाक और प्रमुख माना जाता हैं, जो पूरी दुनिया को अपना शिकार बना रहा है।

अगर समय  रहते  दिल के दौरे या हार्ट अटैक का इलाज नहीं किया गया तो मृत्यु होने की भी संभावना बहुत बढ़ जाती है। अगर मेडिकल की भाषा में जाने तो हार्ट अटैक को मायोकार्डियल इंफ्रेक्शन के नाम से में जाना जाता है। ‘मायो’ शब्द का मतलब होता है मांसपेशी जबकि ‘कार्डियल’हृदय को दर्शाता है। वहीं दूसरी ओर, ‘इंफ्रेक्शन’ अपर्याप्त खून आपूर्ति के कारण टिश्यू के ख़तम होने को संदर्भित करता है। टिश्यू के नष्ट होने से दिल की मांसपेशियों को लंबे समय तक नुकसान पहुंच सकता है

हमारा हृदय यानी की दिल एक शारीर का वह जरूरी अंग है, जो पूरे दिन में 1 लाख बार धड़कता है। जो कि 24 घंटों में हमारे पूरे शरीर में 5000 गैलन खून पंप करता है। दिल का मुख्य काम हमारे टिश्यू को ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति करना है। अगर किसी कारण  वस्  यह अंग अपने काम को पूरा करने में विफल रहता है, तो इसका परिणाम जीवन के लिए खतरा भी साबित हो सकता है।

दिल द्वारा दी गई शुरुआती चेतावनियों  या संकेतो  को समझे|Understand the initial warnings or signals given by the heart

दिल को यदि कोई समस्या है तो वह पहले ही आपकी बॉडी को संकेत या चेतावनिया देना शुरू कर देता है। दिल का दौरा के लक्षण व्यक्ति विशेष में अलग हो सकते है। यहां तक कि एक ही व्यक्ति का दिल का दौरा पिछली बार पड़ा दौरे से बिलकुल भिन्न हो सकता है। सीने में दर्द या दबाव दिल का दौरा पड़ने का सबसे आम लक्षण है। शुरुआती हार्ट अटैक के लक्षण (Symptoms Of Heart Attack in Hindi) और चेतावनिया पहचान कर शीघ्र उपचार कर के इस बड़े जोकिम से बचा जा सकता है। आइये जानते है हार्ट अटैक के लक्षण क्या है

Eczema Disease During Pregnancy : जानिए गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के शरीर में एक्जिमा क्यों होता है गर्भावस्था में एक्जिमा के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार ?

हार्ट अटैक के लक्षण | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

मायोकार्डियल इंफ्रेक्शन या सीने में दर्द या किसी प्रकार की परेशानी। लेकिन हार्ट अटैक के और संकेत भी होते हैं, जिसमें से कुछ महत्वपूर्ण इनमें शामिल हैं।

सीने में दबाव या खिचाव महसूस होना

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

कई बार सीने पर दबाव महसूस होता है। इसे एनजाइना (Angina in Hindi) कहते हैं। इस स्तिथि में आपको घुटन और घबराहट महसूस होने लगती है। अक्सर लोग इस दबाव को नज़रंदाज़ कर देते हैं। आगे जाकर यह हार्ट अटैक का कारण Cause of heart attack in Hindi बनता है।

शरीर के ऊपरी भाग में दर्द

अगर आपके सीने में दर्द, बेचैनी या किसी प्रकार का दबाव है, जो आपके जबड़े, बाहों, गले और कंधे में होता है तो इस बात की पूरी संभावना है कि आपको हार्ट अटैक होने का खतरा बढ़ रहा है।

ठंडा पसीना आना

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

वैसे पसीना एक आम बात है पर अगर बिना किसी वजह के अगर आपको अचानक ठंढे पसीने आने शुरू हो जाता है तो यह सामन्य बात नहीं है यह एक चिंता का विषय है । इसे अनदेखा न करें, खासकर जब आप दिल के दौरे के अतिरिक्त लक्षणों से गुजर रहे हों।

अचानक चक्कर आना

पसीना आने के साथ साथ चक्कर आना भी एक आम बात हो सकती है पर यदि आपको चक्कर बिना वजह आ रहा है तो यह हार्ट अटैक के लक्षण Symptoms of Heart Attack हो सकते है चक्कर आने के साथ साथ यदि आपको अपने सीने में बेचैनी हो रही हो तो यह खतरे की घंटी है ।साक्ष्य बताते हैं कि दिल के दौरे के दौरान औरतो को इस तरह से महसूस होने की अधिक संभावना होती है।

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

अनियमित दिल की धड़कन का बढ़ना घटना

दिल की धड़कन तेज हो जाना, कई कारणों से हो सकता है जिनमें अत्यधिक कैफीन लेना और सही से नींद पूरी न कर पाना शामिल हैं। दिल की धड़कन अचानक कम होना या बढ़ जाना अच्छी बात नहीं है ये आपके साथ भी यह हो रहा है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को इस विषय में बताना होगा ।

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

लम्बे समय की खांसी और जुकाम

आमतौर पर, ठंड और फ्लू के लक्षण दिल के दौरे के लिए खतरे की घंटी नहीं माने जाते हैं। वैसे तो सर्दी खासी जुकाम यह सब मौसम बदलने के साथ आम बात है पर ध्यान देने वाली बात यह है के यदि यह लाब्मे समय तक रहते है और बार आपको अपनी चपेट में लेलेते है तो यह सोचने का विषय है क्युकी यह हार्ट अटैक के लक्षण Heart attack symptoms in Hindi की ओर इशारा करता है

Cancer in Hindi: कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार | What is Cancer and Types of Cancer in Hindi

अगर आप फ्लू जैसे लक्षण महसूस करते हैं जो ठीक न हो रहे हो तो अपने बलगम की जांच करवाएं। यदि आपके बलगम का रंग गुलाबी हो रहा है तो यह दर्शाता है की आपका दिल क्षमता के अनुरूप काम नहीं कर पा रहा है। और इसी कारण से रक्त फेफड़ों में वापस जा रहा है।

6 6

औरतो में हार्ट अटैक के लक्षण:

मर्दों के मुकाबले औरतो में हार्ट अटैक के लक्षण heart attack symptoms in women in Hindi भिन्न हो सकते है महिलायें अक्सर इन लक्षणों को मामूली समझ कर नजरअंदाज कर देते हैं।


• औरतो या लडकियों के सीने में और स्तन मैं दर्द होना, शरीर के ऊपरी भाग में यानि गर्दन, पीठ, दांत, भुजाएं और कंधे की हड्डी में तेज़ दर्द होना।

• बेचैनी महसूस करना, या सिर घूमना, चक्कर आना, उलटी, पेट खराब होना आदि पुरुषों की तुलना में औरतो में अधिक जादा दिखाई देते हैं। दिल में गहराई तक जा के रक्त पहुंचाने वाली दायीं धमनी रुक हो जाने के वजह से अक्सर ऐसा होता है।
• महिलाओ के जबड़े में दर्द होना हार्ट अटैक के प्रमुख लक्षण (heart attack ke lakshan hindi me) है क्योंकि इसके पास जो नसें होती हैं वे दिल से निकलती हैं। यह दर्द कुछ देर रुक रुक कर होता है।

• खांसी का दौरा पड़ना और भारी सांस लेना।

• ५५ वर्ष की महिलाओं में हॉर्मोन्स के बदलाव के वजह से अचानक पसीना आना बहुत सामान्य होते है। हालांकि, अचानक पसीना आने पर ये हार्ट अटैक के लक्षण (sign of heart attack in Hindi)भी हो सकते हैं

हार्ट अटैक के कारण | Causes Of Heart Attack in Hindi

हार्ट अटैक के पीछे कई कारण हो सकते हैं। पर यहां, हम आपको कुछ सबसे प्रमुख हार्ट अटैक के कारण causes of heart attack in hindi के बारे में बता रहे हैं:

आयु

उम्र हार्ट अटैक के जोखिम risks of heart attack in hindi को कई गुना बढ़ा सकती है । ऐसा देखा गया है कि 45 वर्ष की उम्र से अधिक पुरुषों और 55 वर्ष की उम्र से ऊपर की महिलाओं को हार्ट अटैक की संभावना जादा होती है।

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi
image source:- Canva

लिंग

लिंग भी कई बार एक मुख्य हार्ट अटैक का कारण (major cause of heart attack in Hindi) हो सकता है महिलाओ की तुलना में पुरुषो को हार्ट अटैक का खतरा अधिक होता है औरतो में हार्मोन, एस्ट्रोजन, महिलाओं के मामले में ढाल का काम करता है।

पारिवारिक इतिहास

अगर आपके परिवार में पीढ़ियों से ह्रदय रोग का इतिहास रहा है तो आपको दिल का दौरा या स्ट्रोक होने का खतरा सामान्य लोगो की तुलना में दो गुना है।

हाई ब्लड प्रेशर

अधिक समय तक blood pressure अनियंत्रित होना भी खतरे की घंटी हो सकती है आपके दिल को रक्त की आपूर्ति करने वाली धमनियों को नुकसान पहुंचा सकता है जिससे आप हार्ट अटैक के चपेट में सकते हैं।

खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का उच्च स्तर

खराब कोलेस्ट्रॉल या एलडीएल (bad cholesterol or LDL) आपकी धमनियों पर बुरा प्रभाव डालते है जिस वजह से आपकी नसें संकीर्ण हो जाती हैं। इसके अतिरिक्त , ट्राइग्लिसराइड के रूप में जाना जाने वाला ब्लड फैट भी हार्ट अटैक आने की संभावना को बढ़ा सकता है। ये दोनों कारण काफी हद तक आपकी खान पान से संबंधित होते हैं। इसलिए, हार्ट अटैक आने के अपने जोखिम को कम करने के लिए स्वस्थ और healthy डाइट को ही फॉलो करना चाहिए।

मोटापा

मोटापा बिमारिओ का घर है सही ही कहा है लोगो ने क्युकी अक्सर यह देखा गया है की पतले लोगी की तुलना में मोटे लोग जादा बीमर पड़ते है अब मोटे लोगो से हमारा तात्पर्य यह है जो लोग ओवर वेट हो गए है अक्सर ओवर वेटेड लोगो सांस की समस्याए, डायबिटीज diabetes एवं दिल की बीमारियों को जोखिम बना रहता है आपके शरीर का अत्यधिक वजन आपके एलडीएल, ट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ा सकता है और यह हार्ट अटैक का का कारण भी बन सकता है इसी लिए । शारीरिक रूप से सक्रिय रहना और सीमित मात्रा में भोजन करना शरीर के सही वजन को बनाए रखने का आधार है।

डायबिटीज

डायबिटीज या मधुमेह यह भी हार्ट अटैक का प्रमुख कारण (major cause of heart attack) मानी जाती है इसी लिए यदि आप डायबिटीज जैसी समस्या से पीड़ित है तो आपको विशेष ध्यान देने की आवस्यकता है ।

तनाव या एंग्जायटी

एंग्जायटी (Anxiety)या चिंता या फिर यूँ कहिये तनाव यह आपके रक्त संचार को बढ़ाने का जिम्मेदार है और अनियंत्रित रक्त संचार हार्ट अटैक का करक है

धूम्रपान

धूम्रपान करना शारीर के लिए नुकसानदायक है क्युकी यह आपकी धमनियों को कठोर बनाकर blood presure को बढ़ता है ये सभी आपके दिल के दौरे के खतरे heart attack risk in Hindi को बढ़ाते हैं।

Symptoms Of Heart Attack : ह्रदय घात या हार्ट अटैक के लक्षण क्या है | Symptoms Of Heart Attack in Hindi

हार्ट अटैक आने पर क्या करें? |What to do in case of heart attack?


अब जानते है हार्ट अटैक आ जाने की स्तिथि में आपको क्या करना चाहिए सबसे पहले आपको रोगी को किसी शांत जगह पर बैठा देना है और उसे प्राथमिक उपचार हेतु कोई पैन किलर देनी होगी Ecosprin या Aspirin कुछ हद्द तक काम कर जाएँगी ये दवाएं रक्त के Clotting को रोकती है।

और बिना कोई देर किये आपको नजदीकी अस्पताल से संपर्क करना है या संभव हो सके तो आप खुद के साधन से अस्पताल जाये यदि एम्बुलेंस किसी कारण वस् देरी कर रही है तो पर ध्यान रखे मरीज़ यदि जादा परेशानी में है तो खुद के साधन का प्रयोग न ही करे तो बेहतर है यदि किसी के घर में कोई दिल का मरीज़ हो तो sorbitrate की 5mg की टेबलेट जीभ के निचे रखनी है , इसे दर्द की तीव्रता थोड़ी कम हो जाती है।

Share this post

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

Related Posts

Saridon tablet uses in Hindi

Saridon Tablet in Hindi : सेरिडॉन टैबलेट कैसे इस्तेमाल करें क्या है इसके फायदे एवं नुक्सान |Saridon Tablet uses, Benefits and side effects in Hindi

Saridon Tablet in Hindi : सेरिडॉन टैबलेट कैसे इस्तेमाल करें क्या है इसके फायदे एवं नुक्सान |Saridon Tablet uses, Benefits and side effects in Hindi

Read More »

Gallstones or Gallbladder Stone in Hindi: क्या आप भी है पित्त की थैली की पथरी से परेशान तो जानिए इसके घरेलु उपचार एवं बचाव की सम्पूर्ण जानकारी | Gallbladder Stone symptoms, causes and Treatment in Hindi

Post Views: 22 What is Gallbladder Stone in Hindi ? पित्त की पथरी क्या है ? पित्त की थैली यानि गॉलब्लेडर, (Gallbladder) हमारे शारीर का

Read More »
B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

Read More »
Walnuts in Hindi:  जानिए अखरोट खाने के फायदे एवं नुकसान साथ ही अखरोट को कब और कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए| Benefits of Walnut (Akhrot) in Hindi

Walnuts in Hindi:  जानिए अखरोट खाने के फायदे एवं नुकसान साथ ही अखरोट को कब और कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए| Benefits of Walnut (Akhrot) in Hindi

Post Views: 103 अखरोट के विषय में सम्पूर्ण जानकारी | Know About Walnuts in Hindi दोस्तों जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है सेहत में गिरावट

Read More »
Karvol Plus Capsule: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Karvol Plus Capsule in Hindi: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Karvol Plus Capsule: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Read More »
ivecop-12 tablet uses in Hindi

Ivecop 12 Tablet in Hindi: इवेकोप 12 टैबलेट के फायदे इस्तेमाल एवं साइड इफ़ेक्ट की जानकरी | Ivecop 12 Tablet Uses, Benefits and Side Effects in Hindi  

Ivecop 12 Tablet in Hindi: इवेकोप 12 टैबलेट के फायदे इस्तेमाल एवं साइड इफ़ेक्ट की जानकरी | Ivecop 12 Tablet Uses, Benefits and Side Effects in Hindi  

Read More »