Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

पेट का कैंसर (stomach cancer) क्या है     

अन्य कैंसर के प्रकारों की तरह, पेट का कैंसर (Stomach Cancer) बहुत गंभीर समस्या है। क्या आपको मालूम है यह कैंसर का 14वां सबसे आम प्रकार है। इस कैंसर के होने का कारण है  आपके पेट में स्वस्थ कोशिकाओं के बदलाव  का कारण  और जिस वजह से  यह नियंत्रण से बाहर होने लगती हैं। अधिक बढ़ने के साथ साथ यह कोशिकाए धीरे-धीरे ख़राब होने लगती है । यह आपके पेट के किसी भी भाग में शुरू हो सकता है और आपके शरीर के दूसरे भाग में भी फैल सकता है, जैसे लीवर, फेफड़े और हड्डियां आदि इसके चपेट में आ सकते है ।

यह पहले पेट की दीवार में फैलता है और फिर बढ़ कर आस पास के उत्तको (tissues) में फैल जाता है। ये फेफ़ड़े (lungs),यकृत ( liver)  और पेरिटोनियम (peritoneum) में हो जाता है

Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

पेट के कैंसर के प्रकार(Types of stomach cancer) 

लिंफोमा (lymphoma) –

2 25

लिंफोमा पेट का कैंसर होता है वह हमारी वसा कोशिकाओं से बना हुआ ट्यूमर होता है जो हमारी कोशिकाओं से होकर पुरे शरीर मे फैल जाता है और ये हमारे त्वचा(skin) के ठीक निचले भाग में ट्यूमर के रूप में स्थित होता है

एडेनोकार्सिनोमा(adenocarcinoma)-

Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

एक प्रकार का कैंसर होता है ये कैंसर शरीर में कही भी शुरु हो सकता है क्युकी ये कोशिकाओ के एकत्रित होने के कारण बनता है और बढता है वह शरीर के भाग जिसे ब्रह्दान्त, फेफड़े, स्तन और (Prostate) शामिल है और ये हानिकारक

Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्ट्रोमल ट्यूमर  (Gastrointestinal stromal tumor)-

ये बीमरी जादातर 40 70 साल वालो को होने संभावना होती है सायद ही किसी युवा और बच्चों में ये ट्यूमर पाया जाता हो और ये पाचन तंत्र की छोटी आन्त में होता है साथ ही (GIST) के लक्षण बाकियों के तरह स्थान ,आकार और अन्य कारको पर निर्भर होते है और इसके लक्षण खुनी दस्त,पेट में दर्द, आंतो में रुकावट ,निगलने में कठिनाई और मतली.

Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi

               
न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर (Neuroendocrine tumor)

7 9

 न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर (Neuroendocrine tumor) को कठिनाइयों से भरा बताया जाता है. यह  बीमारी मनुष्य के शरीर में कुछ विशेष कोशिकाओं (cells) से विकास करती है जोकि शरीर के किसी भी अंग से विकास होना शुरु हो जाती है  न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर  हार्मोन्स बनाने वाली ग्रांथियों से संबंधित होकर शरीर में विभिन्न प्रकार के प्रभाव डालते है जो कैंसर होता है. अधिकांश न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर फेफड़े, अपेन्डिक्स, छोटी आंत, रेक्टम में होते है

पेट में कैंसर होने के कारण हिंदी में (Causes of stomach cancer in Hindi)

पेट के कैंसर में कोशिकाओ के डीएनए में कुछ परिवर्तन होने के कारण नार्मल कोशिकाओ के समय के अनुसार जल्दी विकसित होने वाली कोशिकाए होती है जो बढ़ती रहती है ख़त्म नही होती है और वह कोशिकाए एकत्रित होने पर एक मात्र टयूमर का रूप ले लेती है फिर ये कोशिकाए टयूमर के रूप में शरीर के अन्य उपकरणों में फैल जाती है जो कैंसर का कारण बनती है

मदिरा व तबाकू का सेवन , आहार में सब्जियों व फल का इस्तमाल कम करना,  धूम्रपान करना,  मास अधिक मात्रा में सेवन करना, आधुनिक व आनियामत लाइफस्टाइल, रोगप्रति रोग की छमता कमज़ोर पड़ता जैसी आधुनिक व आनियामत लाइफस्टाइल वाली चीज़े है इसके अलावा पेट में एक हेलिकोबक्टोर पाइलोरी (Helicobactar Pylori) नामक बैक्टीरिया पर पेट में अल्सर और सूजन भी गैस्ट्रिक कैंसर (gastric cancer) का एक बड़ा कारण हो सकता है                                                                                                                                                           

Mental Weakness : जानिए मानसिक कमजोरी क्या है एवं मानसिक कमजोरी को दूर करने के 26 घरेलू उपचार एवं उपाय | What is mental weakness and 26 home remedies to treat mental weakness in Hindi

पेट में कैंसर होने के लक्षण (Symptoms of stomach cancer in Hindi)

1 पेट में दर्द या जलन होना

पेट में कैंसर होने के बहुत से  कारण  हो सकते है लेकिन पेट का कैंसर (stomach cancer) का शुरवाती लक्षण कई बार तो पता भी नही चलता है क्यूँ की वह एक आम बीमारी के रूप में प्रकट होते है जिसकी तुलना पेट में दर्द,  बुखार, सर्दी और जुखाम से की जाती है जो बाद में शरीर के अन्य हिस्सों में फैलने के बाद उसके लक्षण पता चलता है जैसेकी

2 मल में खून आना

3 उल्टी आना मतली

4 भूख कम हो जाना

5 पेट भरा भरा लगना

6 वजन काफी कम होना  

7 शरीर में हीमोग्लोबिन(hemogolobin) की कमी

8 कमजोरी महसूस होना

9 भोजन निगलने में कठिनाई

10 पेट में हवा भरना जैसा प्रतीत होना

11 पीलिया की शिकायत बार बार होना

12 कुछ भी करने में थक जाना

पेट के कैंसर का इलाज (method of treatment stomach cancer)

कैंसर के लक्षण दिखने पर पहले डॉक्टर के कंसर्ट से टेस्ट कराया जाता है फिर  कैंसर के स्टेज के  अनुसार सर्जरी, कीमोथेरेपी (chemotherapy) , इम्युनोथेरेपी (immunotherapy) थेरेपी जैसे विकल्पों में से सबसे उपयुक्त उपचार की सुविधा मुहैया करवाया जाता है।

Stomach Cancer: पेट का कैंसर क्या है जानिए इसके प्रकार, कारण, लक्षण एवं इलाज के तरीके हिंदी में| What is stomach cancer Know its types, causes, symptoms and treatments in Hindi
image source:- Canva


पेट के कैंसर के शुरुआती स्टेज के मामले में, सर्जरी होने के बाद कीमोथेरेपी/रेडियोथेरेपी से व्यक्ति को कैंसर ठीक होने की संभावना होती है। बल्कि एडवांस्ड मेटास्टैटिक या आवर्तक पेट के कैंसर से पीडि़त मरीजों के लिए कैंसर की बायोलॉजी के आधार पर कीमोथेरेपी(chemotherapy) को ट्रास्टुजुमाब (Trastuzumab), इम्युनोथेरेपी (immutherapy) जैसी एडवांस्ड दवाओं के साथ सप्लीमेंट दिए जा सकते है पेट के कैंसर के मामलों में ये सब जीवन को बेहतर और लंबे समय तक जीने में सहयोग करते है। प्रहेज और ये उपचार कैंसर को नियंत्रित करने में एहेम होते है लेकिन बिना प्रहेज के ये सब उपचार व्यर्थ होता है

Paurush Jeevan Capsule: पौरुष जीवन कैप्सूल फायदे, उपयोग, खुराक, एवं साइड इफेक्ट |Paurush Jeevan Capsule 10 Benefits, Uses, Dosage, Precaution & Side effects in Hindi

कैंसर में क्या खाया जाये

तो सबसे महत्वपूर्ण चीज यह है की खाने में प्रहेज रखा जाये की व्यक्ति को क्या खाना चाहिए और ऐसा खाना चुना जाए, जो पचाने में आसान हो और हर बार खाने के बाद पेट को भरी न लगे। इनमें ऐसे आहार शामिल करे जा सकते हैं जो नरम व  पचाने में तेज और उच्च प्रोटीन स्रोत वाला हों। जो कैंसर में खाना पचाने में सहायक हो। साथ ही साथ खाने के हिस्से बाट दिए जाए जो कैंसर को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा उपचार  है।

जैसे की (3 वक्त के खाने को 6 वक्त) में बाट दिया जाये और (4 वक्त को 8 वक्त में) इस तरीके से कैंसर पीडित व्यक्ति को खाना पचाने में आसानी होती है यह आपके शरीर को पोषण आसानी से देगा और उसे पचाने के लिए आपके पेट पर बोझ भी नहीं पड़ेगा। अगर खाने में से पोशक तत्वों को लेने में अक्षम हो आप, तो व्यक्ति के लिए पूरक (vitamin ,iron, pholate या calcium) भी लेना पड़ सकता है। जिसके लिये supplement भी दिया जाता है

Share this post

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

Related Posts

Saridon tablet uses in Hindi

Saridon Tablet in Hindi : सेरिडॉन टैबलेट कैसे इस्तेमाल करें क्या है इसके फायदे एवं नुक्सान |Saridon Tablet uses, Benefits and side effects in Hindi

Saridon Tablet in Hindi : सेरिडॉन टैबलेट कैसे इस्तेमाल करें क्या है इसके फायदे एवं नुक्सान |Saridon Tablet uses, Benefits and side effects in Hindi

Read More »

Gallstones or Gallbladder Stone in Hindi: क्या आप भी है पित्त की थैली की पथरी से परेशान तो जानिए इसके घरेलु उपचार एवं बचाव की सम्पूर्ण जानकारी | Gallbladder Stone symptoms, causes and Treatment in Hindi

Post Views: 22 What is Gallbladder Stone in Hindi ? पित्त की पथरी क्या है ? पित्त की थैली यानि गॉलब्लेडर, (Gallbladder) हमारे शारीर का

Read More »
B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

B Long Tablet in Hindi | बी लांग टैबलेट किस काम आती है जानिए इसके फायदे, इस्तेमाल और नुक्सान की जानकारी हिंदी में |B Long Tablet Uses, Benefits, Side Effects in Hindi

Read More »
Walnuts in Hindi:  जानिए अखरोट खाने के फायदे एवं नुकसान साथ ही अखरोट को कब और कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए| Benefits of Walnut (Akhrot) in Hindi

Walnuts in Hindi:  जानिए अखरोट खाने के फायदे एवं नुकसान साथ ही अखरोट को कब और कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना चाहिए| Benefits of Walnut (Akhrot) in Hindi

Post Views: 103 अखरोट के विषय में सम्पूर्ण जानकारी | Know About Walnuts in Hindi दोस्तों जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है सेहत में गिरावट

Read More »
Karvol Plus Capsule: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Karvol Plus Capsule in Hindi: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Karvol Plus Capsule: क्या है कारवोल प्लस कैप्सूल जानिए इसके इस्तेमाल और साइड इफेक्ट्स सम्पूर्ण जानकारी | What Karvol Plus Capsule know its uses Benefits and Side Effects in Hindi

Read More »
ivecop-12 tablet uses in Hindi

Ivecop 12 Tablet in Hindi: इवेकोप 12 टैबलेट के फायदे इस्तेमाल एवं साइड इफ़ेक्ट की जानकरी | Ivecop 12 Tablet Uses, Benefits and Side Effects in Hindi  

Ivecop 12 Tablet in Hindi: इवेकोप 12 टैबलेट के फायदे इस्तेमाल एवं साइड इफ़ेक्ट की जानकरी | Ivecop 12 Tablet Uses, Benefits and Side Effects in Hindi  

Read More »